Mulayam Singh Yadav Shayari, Quotes, and Status in Hindi

Check Out High-Quality Mulayam Singh Yadav Shayari in Hindi with images. Mulayam Singh Samajwadi Party chief and convenor who gave birth to this party with his own strength and power. Served as a fruit tree. Mulayam Singh holds a high profile in the political corridor. He is respected not only by his party but also by the people of the opposition party and reads more poetry for Mulayam Singh On Our Site.

Mulayam Singh Yadav is a well-known politician and former Chief Minister of Uttar Pradesh. Apart from his political career, he is also known for his love for Urdu poetry and shayari. His shayaris are famous for their simplicity and deep meaning, which is why they have gained immense popularity among the masses.

This shayari talks about the dichotomy between the rich and the poor. The doors of the rich are often closed, while the hearts of the poor are always open. The river of lies has no shore of truth, so the speaker wants to stay true.

This shayari is a beautiful reminder of the importance of staying true to oneself, even in the face of adversity. It highlights the fact that material wealth and possessions are temporary and fleeting, while honesty and integrity are timeless virtues that will always endure.

Mulayam Singh Yadav’s Death Today, Jokes, SMS, Rip Poetry.

Mulayam Singh Yadav Shayari In Hindi

जिनके बलबूते राजनीति में
साइकिल अबतक कायम है,
वो हैं सपा के मुखिया जी
जिनका नाम मुलायम है

 

नेता जी के नाम से हैं यूपी में मशहूर,
प्रधानमंत्री बनने से बस चार कदम थे दूर,
संघर्षों से लड़कर आये और ऊँचा छुए मुकाम,
लोहिया के आदर्शों पर चलकर नेक किये हैं काम

 

उनके राजनीतिक पैतरों से
आज भी विपक्ष ढेर है,
मुलायम सिंह यादव को हल्के में मत लेना
वे सपा के असली शेर है

Best Quotes, Status, Shayari, Poetry & Thoughts

तीन बार तो अपने दम पर
ये उत्तर प्रदेश को जीते हैं
पाँव कोई कितना भी खींचे
पर ग़म का प्याला नहीं पीते हैं

 

अब तो वो ताकत नहीं रही
पर जज्बातों से बलवान हैं
अब भी उनका भय है सबमें
वो इस दंगल के पहलवान हैं

 

साधारण परिवार से निकलकर अपने हुनर को दिखाया है
नेताजी ने अपने संघर्षों से ही सपा को इतना बड़ा बनाया है

Hindi Poetry for Mulayam Singh Yadev

ऐसे ही नहीं कोई बनता है मुलायम
रखना पड़ता है जज़्बे को कायम

 

गरीब, दलितों और पिछड़ो की
सेवा में अपना पूरा जीवन लगाया है,
तभी तो उत्तर प्रदेश की राजनीति में
इन्होने अपना दबदबा बनाया है

 

मुलायम को तो अपनों ने लूटा
भला औरों में कहाँ दम था
भाई भतीजों ने ऐसी जगह कश्ती डुबाई
जहाँ खुशियाँ नहीं बस ग़म ही ग़म था

Mulayam Singh Yadav Poetry

देश में अनेकों जाति , पंथ , मजहब आदि हैं

इन सभी को दरकिनार करते हुए

देश में समाजवाद का विस्तार

किया जाना चाहिए यह देश की मांग है

 

जातिगत भेदभाव मनुष्य को उन्नति के मार्ग में

बाधा उत्पन्न करती है , आवश्यकता है

जातिगत विचार से ऊपर उठकर

सभी को स्वीकार करने की

 

आवश्यक नहीं है कि विरासत में सब कुछ मिले

तभी महान बन सकते हो , संघर्ष करके भी

सब कुछ प्राप्त करके महान बना जा सकता है

Mulayam Singh Yadev Death Poetry

दूसरे का दुख वह व्यक्ति सबसे अच्छा समझ सकता है

जिसने उस दुख को स्वयं अपने जीवन में झेला हो

 

मनुष्य का कर्तव्य है , लक्ष्य को निर्धारित करते हुए

अपने कार्य को निरंतर करते रहे

परिणाम उसके हाथ नहीं है

किंतु संघर्ष उसके हाथ अवश्य है

 

दीन-दुखियों के दुख में शामिल होना

कोई बुराई का विषय नहीं है

उन दुखियों के आंसू को पोंछना

समाजवाद का अंतिम लक्ष्य है

Mulayam Singh Rip Status for Whatsapp

एक सफल नेतृत्व वह व्यक्ति कर सकता है

जिसके पीछे हजारों दुआएं कार्य करती है

 

भ्रष्टाचार की डोरी पकड़े जो व्यक्ति

सब कुछ प्राप्त कर लेता है

वह सदैव अशांत और दुख का भागीदार बनता है

 

मानव कल्याण के राह में जाति-पाती का कोई अर्थ नहीं

इससे ऊपर उठना होगा ,

अपने स्वयं के विचारों को त्यागना होगा

और समाज का हिस्सा बन उनके दुखों को सहना होगा

Mulayam Singh Yadav Quotes In Hindi for Whatsapp

कितनी भी कठिन समस्या हो

चाहे उसका परिणाम कितना भी गंभीर हो

जो सत्य के साथ है वही निडर रह सकता हे

 

ऊंचे मुकाम पर पहुंचकर अपने से नीचे वालों को

ऊपर उठाने का प्रयत्न करना चाहिए

ना कि उन्हें नीचे गिराने का

 

जो राष्ट्र हित में है उसका समर्थन करने में

कोई बुराई नहीं है

चाहे वह किसी भी विचारधारा से संबंध रखता हो

Mulayam Singh Died Status Quotes

हार-जीत , सुख-दुख यह सब जीवन का अंग है

इन सभी को खुले हृदय से

स्वीकार करने वाला व्यक्ति ही महान है

 

देश की आजादी के लिए

छोटे-बड़े , अमीर गरीब सभी ने संघर्ष किया है

आजादी के पश्चात सभी को

सम्मान और अधिकार एक रूप से मिलना चाहिए

 

जो लोग सत्ता के मद में चूर होकर

अपने कर्तव्यों को भूल जाते हैं

यह वह लोग होते हैं जो

कुछ समय पश्चात धूल में मिल जाते हैं

 

जनता के दुख को कोई दुखी ही समझ सकता है

राजशाही में पले बढ़े लोग इस दुख को क्या जाने

Best Mulayam Singh hindi Shayari

देश की उन्नति उस दिन सार्थक रूप से

देखी जा सकती है जब

देश का प्रत्येक व्यक्ति

समाजवाद का अनुपालन करे

“Ameer k darwaze aksar band rehte hain,

ghareeb k dil hamesha khule rehte hain,

Jhooth ke dariya me sach ka sahil nahi hota,

isliye hum sache rehna chahte hain.

“The doors of the rich are often closed,

But the hearts of the poor are always open.

In the river of lies, there is no shore of truth,

That’s why we want to always stay true.”

Zindagi ki sachchai me wo sach bolte rahe,

Duniya ke khel me kabhi na jhuke rahe,

Mulayam ji ke shayari se hum sab ko mile,

Kuchh nayi umeedein aur nayi sapne sajayein.

They spoke the truth in the face of life’s realities,

They never bowed down in the game of the world,

Thanks to Mulayam Ji’s shayaris, we all got,

Some new hopes and dreams to cherish.

Jhooth ke dariya me sach ka sahil nahi hota,

Mulayam ke shayari me sach ka rang bikher jata hai,

Manzil aasan nahi hai, par jeena hai toh sahi,

Unke shayari me har mushkil ka hal mil jata hai.

In the river of lies, there is no shore of truth,

But in Mulayam’s shayaris, the color of truth is spread,

The destination is not easy, but living is essential,

In his shayaris, we find solutions to every difficulty.

If you’re a fan of Urdu poetry and shayari, Mulayam Singh Yadav’s works are definitely worth exploring. His shayaris are not only beautiful but also thought-provoking, and they have the power to inspire and uplift your spirits. Whether you’re a seasoned poetry lover or a newbie to the world of shayari, Mulayam Singh Yadav’s works are sure to leave a lasting impression on you.

See also  *New* Pardesi Poetry In Urdu/Hindi 2022 (Pardesi Shayari)

Leave a Comment